Land Record : किसानों के लिए खुशखबरी, अब ऑनलाइन होगी खेती के भूमि की गिनती!

Land record: 1 अगस्त से खेती की गणना के लिए आवेदन करने के लिए कार्यालय आने की जरूरत नहीं है. महाराष्ट्र राज्य के राहता भूमि अभिलेख विभाग के उपाधीक्षक योगेश थोराट ने बताया है कि कृषि भूमि की गिनती का काम ऑनलाइन किया जायेगा.

किसानों को अपनी कृषि भूमि की गणना कराने के लिए भू-अभिलेख कार्यालय के बार-बार चक्कर लगाने पड़ते थे। यह सारी प्रक्रिया अब राजस्व मंत्री राधाकृष्ण विखे पाटिल की संकल्पना से ऑनलाइन क्रियान्वित होने जा रही है.

इसके लिए किसानों को अब भू-अभिलेख कार्यालय के चक्कर लगाने की जरूरत नहीं होगी और गणना के लिए छह महीने तक इंतजार करने की जरूरत नहीं होगी. इससे किसानों को अपने खेत का सटीक नक्शा आसानी से प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

अब यदि किसान अपनी कृषि भूमि की गिनती कराना चाहते हैं तो उन किसानों को कार्यालय में आए बिना ऑनलाइन आवेदन दाखिल करना होगा और ऑनलाइन आवेदन जमा करने के बाद किसान भूमि की गिनती के पैसे का भुगतान बैंक में जाए बिना ऑनलाइन कर सकते हैं। किसानों को उनके खेत की गिनती की तारीख मोबाइल फोन पर तुरंत मोबाइल मैसेज के जरिए बता दी जाएगी और अगले 15 दिन के अंदर उक्त जमीन की गणना पूरी होने के बाद संबंधित किसानों को सुविधा उपलब्ध करा दी जाएगी. बिना कार्यालय आए अपनी कृषि भूमि का सटीक नक्शा ऑनलाइन डाउनलोड करें।

उपग्रह द्वारा मानचित्र में क्यूआर कोड की मदद से अक्षांश और देशांतर उपलब्ध कराया जाएगा। राजस्व मंत्री के निर्देशानुसार कार्यालय में 5 नए कर्मचारियों की भर्ती की गई है और गिनती के लिए निजी कंपनी की मदद लेकर कम से कम समय में सटीक गिनती पर जोर दिया जा रहा है. सरकार के इस फैसले से किसानों की गिनती में गड़बड़ी बंद हो जाएगी और किसानों ने इस योजना से संतुष्टि जाहिर की है.

You might also like