Career Tips: 12वीं के बाद इस कोर्स की भारी मांग; बिजनेस के साथ लाखों कमाने का मौका

आज हम आपको बताएंगे कि ब्यूटीशियन क्या होता है और आप इसे करियर के रूप में अपना सपना कैसे पूरा कर सकते हैं।

आजकल हर कोई जॉब-ओरिएंटेड कोर्स करना चाहता है। इसलिए ब्यूटीशियन कोर्स करके आप अच्छी कमाई कर सकते हैं। यह कोर्स 12वीं के बाद में किया जा सकता है और इसके लिए आपको किसी विशेष स्ट्रीम की आवश्यकता नहीं होती। और सबसे दिलचस्प बात यह है कि ब्यूटीशियन कोर्स करने के बाद आप फिल्मों, सीरियल्स और मीडिया में भी काम कर सकते हैं।

जो लोग मेकअप करने में रुचि रखते हैं, वे इस कोर्स के माध्यम से अपना करियर बना सकते हैं। यह करियर करने के लिये आपको कुछ खर्चा करना पड़ेगा, लेकिन इसमें करियर बनाकर अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं। खासकर शादी के सीजन में ब्यूटीशियन की मांग बढ़ जाती है, चाहे वह किसी पारिवारिक समारोह हो या किसी दोस्त की शादी। आजकल हर कोई खूबसूरत दिखना चाहता है, जब वह किसी फंक्शन जाता है और इसके लिए उन्हें मेकअप आदि की आवश्यकता होती है। इसलिए वे एक मेकअप आर्टिस्ट या ब्यूटीशियन ढूंढ़ते हैं।

हर किसी को खूबसूरत दिखने के लिए ब्यूटीशियन की आवश्यकता होती है। एक ब्यूटीशियन को चेहरे की मसाज, बाल कटवाना, पेडीक्योर, वैक्सिंग, मेकअप, आइब्रो आदि का काम करना पड़ता है। सारी योग्यताएं मिलाकर, एक ब्यूटीशियन का काम होता है लोगों के चेहरे को सुंदर बनाना। इसके लिए उन्हें कई तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट्स का उपयोग करना पड़ता है।

ब्यूटीशियन बनने के लिए आप 12वीं के बाद सर्टिफिकेट कोर्स, डिप्लोमा, ग्रेजुएशन या पोस्ट ग्रेजुएशन कर सकते हैं। खास बात यह है कि 10वीं कक्षा के बाद भी सर्टिफिकेट कोर्स या डिप्लोमा कोर्स किया जा सकता है। ब्यूटी कॉस्मेटोलॉजी का कोर्स करके छात्र पेशेवर ब्यूटीशियन बन सकते हैं।

लेडीज़ ब्यूटी पार्लर व्यवसाय में कमाई – Beauty Parlour Tips

आज की जीवनशैली के साथ लेडीज ब्यूटी पार्लर का बिजनेस कभी कम नहीं होगा। इसलिए इस बिजनेस में मुनाफा कमाना और बिजनेस को अच्छे से बढ़ाना ज्यादा मुश्किल नहीं है।

लेकिन फिर भी, इस व्यवसाय में लाभदायक होना कई अलग-अलग कारकों पर निर्भर करता है। आपका पार्लर किस क्षेत्र में स्थित है, आप क्या सेवाएं प्रदान करते हैं, आपकी दरें दूसरों की तुलना में कैसी हैं और प्रतिस्पर्धा, समय आदि। सभी बातों को ध्यान में रखते हुए मान लीजिए कि आप एक महीने में 3 लाख का बिजनेस करते हैं तो आपको 50% का मुनाफा मिल सकता है। यानी अगर आप एक महीने में 1 लाख का बिजनेस करते हैं तो आपको 50 हजार का मुनाफा हो सकता है.

इस बिजनेस में शादी के सीजन में ज्यादा कमाई होती है और आजकल शादियों में लेडीज ब्यूटी पार्लर की जरूरत हर किसी को होती है चाहे वह निम्न वर्ग का हो या मध्यम वर्ग का या फिर उच्च वर्ग का। तो एक समय ऐसा भी है जब आप खूब मुनाफा कमा सकते हैं और अपने बिजनेस का विस्तार कर सकते हैं।

लेडीज़ ब्यूटी पार्लर के कोर्स

  • स्कीन केअर कोर्स (Skin care course)- त्वचा देखभाल और सौंदर्य पेशेवर वे लोग हैं जो त्वचा संबंधी समस्याओं जैसे मुँहासे, दाग-धब्बे आदि से निपटते हैं।
  • मेकअप आर्टिस्ट कोर्स (Makeup Artist Course)- मेकअप आर्टिस्ट की बाजार में काफी मांग है और यह बहुत उपयोगी कोर्स है।
  • हेयरस्टाइलिंग कोर्स (Hairstyling course)- भारत में खूबसूरत बालों को बहुत सराहा जाता है और इसलिए हेयरस्टाइलिंग एक सदाबहार कोर्स है जो आपको बालों के लिए अलग-अलग स्टाइल सिखाता है।
  • कॉस्मेटोलॉजी कोर्स (Cosmetology Course)– यह कोर्स एक पेशेवर मेकअप आर्टिस्ट बनने की नींव है।
  • नेल ब्यूटी एंड नेल आर्ट कोर्स (Nail Beauty and Nail Art Course)- नेल ब्यूटी एंड नेल कोर्स से आप नेल डिजाइनिंग सीखते हैं।
  • स्पा कोर्स Spa course – स्पा कोर्स आपको मसाज और फिजियोथेरेपी के बारे में सिखाते हैं।

इनमें से कोई भी कोर्स करने से आपकी विश्वसनीयता बढ़ेगी और आपके व्यवसाय और ग्राहकों पर बहुत सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।

मार्केटिंग कैसे करें

किसी भी बिजनेस के लिए अच्छी मार्केटिंग बहुत जरूरी है चाहे वह छोटा हो या बड़ा। इसके लिए इस बात का ध्यान रखें कि आपके बिजनेस के हिसाब से वो कौन से मार्केटिंग के तरीके हैं जिनके जरिए आप अपने बिजनेस को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचा सकते हैं। अब बात यह है कि आप अपने बाकी प्रतिस्पर्धियों की तुलना में क्या कर रहे हैं जिससे आपका व्यवसाय बाकी लोगों से अलग हो रहा है और आपकी ग्राहक सूची बढ़ रही है। अपने व्यवसाय को बढ़ाने के लिए आपको इन 3 चीजों का ध्यान रखना होगा – आपके स्टोर का प्रचार, आपका ग्राहक व्यवहार और ग्राहक लाभ।

  • ब्यूटी पार्लर के लिए वास्तु टिप्स – Vastu Tips for Beauty Parlor
    • ब्यूटी पार्लर का मुख्य द्वार उत्तर, उत्तर पूर्व या पूर्व दिशा में होना बेहतर होता है। हालाँकि दक्षिण या पश्चिम दिशा में भी बनाई जा सकती है।
    • रिसेप्शन काउंटर की व्यवस्था इस प्रकार होनी चाहिए कि रिसेप्शनिस्ट का मुख सदैव उत्तर, पूर्व या उत्तर दिशा की ओर रहे।
    • आईने की दिशा उत्तर, पूर्व या उत्तर और पूर्व दोनों में लगानी चाहिए।
    • मुख्य द्वार के अंदर भगवान गणेश की मूर्ति स्थापित करनी चाहिए।
    • वॉश बेसिन उत्तर, उत्तर-पूर्व या पूर्व दिशा में रखना चाहिए।
    • कैश काउंटर इस प्रकार रखना चाहिए कि जब वह खुले तो उसका मुख उत्तर और पूर्व दिशा की ओर रहे।
    • कैश काउंटर के पास फिश एक्वेरियम रखने से धन में वृद्धि होती है।
    • हेड ब्यूटीशियन को इस प्रकार बैठना चाहिए कि उसका मुख उत्तर या पूर्व दिशा की ओर रहे। नैऋत्य (पश्चिम-दक्षिण) में नहीं बैठना चाहिए।
    • बिजली के स्विच एवं उपकरण आग्नेय कोण (पूर्व-दक्षिण) में होने चाहिए।
    • आग्नेय कोण में स्टीम बाथ और पैंट्री बनाएं।
    • ब्यूटी पार्लर के आग्नेय कोण में हमेशा मोमबत्ती या लाल बल्ब लगाना चाहिए, इससे सकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है और कारीगरों की कार्य करने की क्षमता बढ़ती है।
    • थ्रेडिंग, वैक्सिंग, पेडीक्योर, मैनी क्योर, हेयर कटिंग, मेंहदी, कलरिंग, ट्रिमिंग आदि कार्य आग्नेय कोण (पूर्व-दक्षिण) में करने चाहिए।
    • सभी सौंदर्य प्रसाधन पश्चिम दिशा में रखें।
    • शौचालय दक्षिण या पश्चिम दिशा में ही बनाएं।
    • ग्राहक को सदैव वायव्य कोण (उत्तर-पश्चिम) में बैठना चाहिए।
    • दीवारों और पर्दों का रंग हल्का गुलाबी, नारंगी, आसमानी और हल्का बैंगनी होना चाहिए।
    • यदि शारीरिक फिटनेस के लिए कोई मशीन, उपकरण आदि हों तो उन्हें आग्नेय कोण (पश्चिम-दक्षिण) में रखें।
    • मालिक को आग्नेय कोण में इस प्रकार बैठना चाहिए कि बैठते समय उसका मुख उत्तर या पूर्व की ओर हो।
    • पार्लर का नाम स्त्रीलिंग शब्द से लिया जाना चाहिए।
    • सफेद अथवा हल्के गुलाबी रंग के तौलिये का ही प्रयोग करना चाहिए।
    • कूड़ा-कचरा नैऋत्य कोण में रखें।

हमें उम्मीद है कि आप समझ गए होंगे कि आप इस बिजनेस प्लान के साथ ब्यूटी पार्लर का बिजनेस कैसे शुरू कर सकते हैं। इसके अलावा अगर आपके मन में कोई और सवाल है तो कमेंट करके हमसे जरूर पूछें।

अगर आपको हमारा आर्टिकल ब्यूटी पार्लर टिप्स इन मराठी पसंद आया तो इसे शेयर करें।

You might also like