Atal Pension Yojana hindi: बुढ़ापे में पैसों की चिंता होगी दूर; सर्वोत्तम सरकारी पेंशन योजना, प्रतिदिन केवल 7 रुपये निवेश करें!

Atal Pension Yojana hindi: बुढ़ापे में पेंशन (Pension)बड़ा सहारा है। लेकिन पेंशन सहायता तभी मिलती है जब आप इसके लिए सही जगह और सही समय पर निवेश (Invest) करते हैं। अक्सर लोग बुढ़ापे को लेकर चिंता नहीं करते, खासकर निवेश के नजरिए से।

Atal Pension Yojana hindi

लेकिन इस गलती के कारण लोगों को बुढ़ापे में पछताना पड़ता है। इसलिए बुजुर्गों के जीवन को खुशहाल बनाने के लिए सही विकल्प चुनना भी उतना ही जरूरी है।

अगर आप जवान हैं तो हर महीने थोड़ी सी रकम बचाकर अपने बुढ़ापे को आर्थिक रूप से आरामदायक बना सकते हैं। इसके बाद आपको हर महीने पेंशन के तौर पर तय रकम मिलती रहेगी, और बुढ़ापे में आपको रोजमर्रा के खर्चों के लिए किसी पर निर्भर रहने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

अगर आप रिटायरमेंट के लिए किसी उपयुक्त जगह निवेश करने की सोच रहे हैं तो अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) सही विकल्प होगी। यह सरकारी पेंशन योजना (Sarkari Pension Scheme) है। इसलिए यह प्लान बेहद सुरक्षित है और इस प्लान में आपको गारंटीड रिटर्न मिलता है। निवेश के नजरिए से आपको 1000 रुपये से लेकर 5000 रुपये प्रति माह तक पेंशन मिल सकती है।

इसके अलावा अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) में भाग लेकर पति-पत्नी दोनों प्रति माह 10,000 रुपये तक पेंशन ले सकते हैं. इस योजना का लाभ भारत का कोई भी नागरिक उठा सकता है। अगर आपकी उम्र 40 साल से कम है तो तुरंत अटल पेंशन योजना में खाता खुलवाएं। क्योंकि इस योजना में 40 साल से अधिक उम्र के लोग भाग नहीं ले सकते हैं।

Atal Pension Yojana Age:

इस योजना से जुड़ने की आयु 18 से 40 वर्ष के बीच निर्धारित है। इस योजना के तहत पेंशन पाने के लिए कम से कम 20 साल का निवेश करना होगा। 60 साल की उम्र पूरी होते ही आपको हर महीने पेंशन की रकम मिलनी शुरू हो जाएगी.

कितनी मिलेगी पेंशन?

अगर आपकी उम्र 18 साल है तो आप इस योजना में प्रति माह 210 रुपये यानी प्रतिदिन 7 रुपये का निवेश कर सकते हैं और बुढ़ापे में प्रति माह 5000 रुपये की पेंशन प्राप्त कर सकते हैं। साथ ही अगर 60 साल की उम्र के बाद 1000 रुपये प्रति माह पेंशन चाहिए तो इसके लिए 18 साल की उम्र में 42 रुपये प्रति माह जमा करना होगा।

यदि निवेशक 60 वर्ष की आयु से पहले अपना पैसा निकालना चाहते हैं, तो यह कुछ परिस्थितियों में संभव है। यदि किसी महिला के पति की मृत्यु 60 वर्ष की आयु से पहले हो जाती है तो पत्नी को पेंशन मिलेगी। पति-पत्नी दोनों की मृत्यु के बाद नॉमिनी को पूरा रिफंड मिलेगा.

Atal Pension Yojana Account Open Process: अटल पेंशन योजना से जुड़ने के लिए आपके पास बैंक (Bank) या पोस्ट (Post Office) ऑफिस खाता होना चाहिए। आधार कार्ड (Aadhaar Card) और एक्टिव मोबाइल नंबर (Active Mobile Number) की जरूरत होगी। इस योजना में मासिक, त्रैमासिक और अर्धवार्षिक जमा सुविधा उपलब्ध है। साथ ही, ऑटो डेबिट सुविधा भी उपलब्ध है। यानी आपके खाते से पैसे अपने आप कट जाएंगे.

Atal Pension Yojana Tax Saving: अटल पेंशन योजना में निवेश करके आप पेंशन पाने के साथ-साथ टैक्स भी बचा सकते हैं। इस स्कीम में निवेश करके आप 1.5 लाख रुपये तक टैक्स बचा सकते हैं. यह छूट आयकर धारा 80सी के तहत मिलती है। मोदी सरकार ने मई 2015 में अटल पेंशन योजना लॉन्च की थी.

भारत में केंद्र सरकार कि योजनाओ कि सूची देखणे के लिए क्लिक करें

आवेदन प्रक्रिया

  • पहले, आवेदक को किसी राष्ट्रीय बैंक में अपना बचत खाता खोलवाना होगा.
  • आवेदन फॉर्म को सही और पूरी जानकारी के साथ भरकर आधार कार्ड और मोबाइल नंबर जैसी जानकारी शामिल करनी होगी.
  • फॉर्म को भरने के बाद, आपको नजदीकी बैंक मैनेजर के पास जाकर फॉर्म की प्रति जमा करनी होगी.
  • आपके द्वारा जमा किए गए सभी पत्रों की सत्यापन के बाद, आपका अटल पेंशन योजना के अंतर्गत खाता खोल दिया जायेगा.
  • यह योजना भारतीय नागरिकों को वित्तीय सुरक्षा प्रदान करने का एक अच्छा तरीका है, और इसके लिए आवश्यक दस्तावेजों का सही तरीके से प्रस्तुत करना महत्वपूर्ण है।

‘Atal Pension Yojana में UPI से भुगतान कैसे करें

‘अटल पेंशन योजना’ और ‘नेशनल पेंशन स्कीम’ के तहत UPI से भुगतान करने का सही तरीका निम्नलिखित है:

  • सबसे पहले, Atal Pension Yojana की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • अब आपको अपना पैन नंबर दर्ज करना होगा।
  • आपके पंजीकृत मोबाइल नंबर और ईमेल पर एक OTP (वन टाइम पासवर्ड) आएगा, जिसे आपको दर्ज करना होगा।
  • अब आपको एनपीएस टियर 1 या 2 में से किसी एक विकल्प का चयन करना होगा।
  • फिर आपको वर्चुअल अकाउंट वीए का चयन करना होगा।
  • इसके बाद, आपके बैंक एप्लीकेशन को भेजा जाएगा और आपको एक अक्नॉलेजमेंट नंबर प्राप्त होगा।
  • अब आपको UPI पेमेंट के विकल्प का चयन करना होगा।
  • अपना वर्चुअल अकाउंट नंबर और UPI नंबर दर्ज करें।
  • अब आपको UPI पिन दर्ज करके अपने भुगतान को पूरा करें।
You might also like